Teacher Banne Ke Liye Konsa Subject Lena Chahiye in 2023

जैसा की हम सब जानते हैं कि शिक्षक बनना बड़ी ही जिम्मेदारी का कार्य होता हैं। ज्यादातर लोगों का सपना शिक्षक बनकर बच्चों को सही राह दिखाने का होता हैं। पर बहुत बार बच्चे अपने सपने को इस वजह से पूरा नहीं कर पाते हैं क्योंकि उनको यह नहीं पता होता है कि teacher banne ke liye konsa subject lena chahiye। पर अब आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि अब आपको हम इस आर्टिकल के जरिए बताने वाले हैं कि teacher banne ke liye konsa subject lena chahiye.

Table of Contents

टीचर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए 

Teacher Banne Ke Liye Konsa Subject Lena Chahiye in 2023

Teacher banne ke liye konsa subject lena chahiye: दोस्तों हमारे जीवन में ऐसा एक अवसर जरूर आता है जब हमें अपने करियर के लिए किसी प्रोफेशन को चुनना होता है कई हर अलग-अलग तरीके के लोगों के अलग-अलग प्रोफेशन अपने रुझान के अनुसार चुनते हैं ऐसे में कुछ लोग डॉक्टर बनना चाहते हैं कुछ लोग इंजीनियर और कुछ लोग टीचर बनना चाहते हैं | 

लेकिन टीचर बनने के लिए हमें क्या करना चाहिए कौन सा सब्जेक्ट का टीचर हमें बनना चाहिए कौन सा सब्जेक्ट हमें लेना चाहिए कई लोग इसी असमंजस कंफ्यूजन में रहते हैं उनको टीचर प्राइवेट स्कूल में बनना चाहिए गवर्नमेंट टीचर बनना चाहिए आज हम इन्हें सब विषयों के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे की टीचर बनने के लिए हमें कौन सा सब्जेक्ट ले गवर्नमेंट टीचर कैसे बने तो चलिए शुरू करते हैं | 

पढ़ाने के लिए स्कूल विषय चुनते समय क्या विचार करना चाहिए

टीचर बनने के लिए स्कूल में विषय का चुनाव काफी हद तक आपकी व्यक्तिगत पसंद पर निर्भर करता है कि आपकी कैसे विषय में रुचि है और आप किस विषय को बच्चों को अच्छे से पढ़ा सकते हैं | 

नीचे हमने कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की है जिससे आपको यह समझने में आसानी होगी क्या आपको किन महत्वपूर्ण बिंदुओं का ध्यान रखना है ताकि आप टीचर बनने से पहले एक सही सब्जेक्ट का चुनाव कर सके | 

पहचाने की किस विषय में आपकी ज्यादा रुचि है 

सबसे पहले यहां आप यह देखेंगे कि आपने अपने कॉलेज में कौन सी डिग्री प्राप्त की है कई टीचर ऐसे होते हैं जो क्लास रूम में वही सब्जेक्ट पढ़ाना पसंद करते हैं जिस सब्जेक्ट पर उन्होंने कॉलेज में डिग्री हासिल की है | उदाहरण के लिए जैसे कि एक टीचर बनने का छात्र जिसने अपने कॉलेज के टाइम पर इंजीनियरिंग के डिग्री हासिल की है वह विज्ञानं, गणित या इंग्लिश जैसे सब्जेक्ट में भी टीचर बन सकता है| 

अपने आप से पूछें कि आप अपने खाली समय में किन विषयों का अध्ययन करेंगे।

अपने आप से पूछें कि आप अपने खाली समय में किन विषयों का अध्ययन करेंगे। जब आप बच्चो को नहीं पढ़ा रहे हैं या स्कूल में नहीं हैं, तो आप खाली समय में किन सब्जेक्ट्स के बारे में पढ़ना पसंद करेंगे यह एक अच्छा संकेत है कि आप कौन सा सब्जेक्ट सिखाना चाहते हैं। निम्नलिखित प्रश्न अपने आप से पूछे | 

  • अगर आप आप मज़े के लिए चीजों का निर्माण या सुधार करते हैं तो आपको  विज्ञान या कुछ इसी तरह के सब्जेक्ट चुनने के बारे में सोचना चाहिए।
  • क्या आप इतिहास के बारे में पढ़ते हैं या अपने आसपास के ऐतिहासिक स्थलों पर जाते हैं? इतिहास या सामाजिक अध्ययन के शिक्षक होने पर विचार करें।
  • क्या आप नावेल और अन्य प्रकार के इंग्लिश साहित्य पढ़ते हैं? आप एक अंग्रेजी शिक्षक के रूप में एक कैरियर पर विचार कर सकते हैं।

अनुभवी शिक्षकों से इनपुट मांगें।

जो लोग शिक्षण के बारे में सबसे अधिक जानते हैं, दोनों ग्रेड स्तर और विषय क्षेत्र, ऐसे शिक्षक हैं जिन्होंने लंबे समय तक पढ़ाया है। उनसे सलाह लें | एक विज्ञान शिक्षक आपको विषय को पढ़ाने की चुनौतियों पर प्रकाश डाल सकता है। 

एक कॉलेज में एक भाषा का शिक्षक उसमे सिखाने में तेजी लाने के लिए उपयोग की जाने वाली रणनीतियों में आने वाली कठिनाइयों को साझा कर सकता है। एक अनुभवी मध्य विद्यालय सामाजिक अध्ययन शिक्षक आपको अपनी रुचियों के आधार पर हाई स्कूल या कॉलेज पढ़ाने की दिशा में निर्देशित कर सकता है।

कक्षाओं का निरीक्षण करने के लिए स्कूलों का दौरा करें।

कक्षा में शिक्षकों और विद्यार्थियों को देखना पढ़ाने के लिए एक विषय और आयु वर्ग निर्धारित करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। आप यह भी देख पाएंगे कि विभिन्न क्लास में  पर विभिन्न विषयों को कैसे पढ़ाया जाता है। 

कक्षाओं और स्कूलों का दौरा करके आप यह भी समझ सकते हैं कि बच्चों द्वारा पूछे गए कठिन सवालों का जवाब देते हो खत कहीं आप घबराते तो नहीं है | आप यह भी जान पा सकते हैं कि आप एक विषय का दूसरे की तुलना में बेहतर आनंद लेते हैं। आप ये भी जान सकते हैं कि एक टीचर बनना उतना भी आसान नहीं है जितना शायद आप सोच रहे थे टीचर बनना एक खाली एक जॉब नहीं है बल्कि यह एक जिम्मेदारी भरा काम है | 

Government Teacher Banne Ke Liye Kya Kare 

आज के समय में लाखों युवाओं का सपना है की वो एक सरकारी नौकरी प्राप्त करें इन्हीं में से एक सरकारी नौकरी है सरकारी टीचर बनना |  सरकारी टीचर बनने के लिए आपके पास कई तरीके की योग्यताएं होनी चाहिए | 

जिसमें से है कि आपको सबसे पहले teacher banne ke liye course में B.ed  करना चाहिए उसके बाद आपको सरकारी सरकार द्वारा कंडक्ट किए गए हुए CTET, TET या PGT examination एग्जाम को पास करना चाहिए और उसके बाद आपको कई तरीके के प्रशिक्षण प्राप्त करने चाहिए आगे हम इन्हीं सबके बारे में बात करेंगे कि आप एक अच्छे सरकारी टीचर कैसे बन सकते हैं | 

सरकारी शिक्षकों के प्रकार ( Types of Government Teachers)

नीचे दिए गए बिन्दुओ के माध्यम से समझिये सरकारी टीचर कितने प्रकार के होते हैं | 

  • प्री-प्राइमरी शिक्षक (Pre-primary teacher): ये शिक्षक विभिन्न सरकारी स्कूलों में नर्सरी और किंडरगार्टन में कक्षाओं की जिम्मेदारी लेते हैं। वे तीन साल की उम्र से लेकर प्राथमिक विद्यालय तक के बच्चों को पढ़ाते हैं।
  •  प्राइमरी शिक्षक (PRT): ये शिक्षक ग्रेड एक से पांच तक की प्राथमिक कक्षाओं को पढ़ाते हैं। वे पूछताछ करने वाले दिमाग को विकसित करने और अभिनव शिक्षा के माध्यम से उत्कृष्ट गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं।
  • ट्रेनड ग्रेजुएट टीचर (TGT ): टीजीटी कक्षा छह से आठ तक के छात्रों को पढ़ाते हैं। वे पदोन्नति के लिए आवेदन कर सकते हैं जिससे उन्हें कक्षा दस तक के छात्रों को पढ़ाने की अनुमति मिल सके।
  • पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (PGT): पीजीटी 10वीं से 12वीं कक्षा तक पढ़ा सकते हैं। ये शिक्षक स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम पूरा करते हैं और एक विषय में विशेषज्ञ होते हैं।

सरकारी टीचर कैसे बने

  • सरकारी शिक्षक बनने के लिए सबसे बुनियादी शैक्षिक आवश्यकता स्नातक (government teacher ke liye qualification) की डिग्री है। 
  • PRT शिक्षक: आपको किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 50% के साथ एक वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रमाण पत्र और Diploma in Elementary Education (DElEd) या Bachelor of Elementary Education (BElEd) की आवश्यकता होती है। पीआरटी शिक्षक बनने के लिए कई उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से Diploma in Education (DEd) करते हैं। दोनों पाठ्यक्रमों को पूरा करने में दो साल लगते हैं।
  • TGT शिक्षक: इस स्तर के लिए आपको कम से कम 50% अंकों के साथ प्रासंगिक विषयों में National Council of Educational Research and Training (NCERT)  के क्षेत्रीय शिक्षा कॉलेज में चार साल का एकीकृत डिग्री कोर्स पूरा करना होगा या किसी भी विषय में Bachelor of Arts (BA) या Bachelor of Science (BSc) जैसी स्नातक की डिग्री पूरी करनी होगी। 
  • आप टीजीटी शिक्षक पद प्राप्त करने के लिए Bachelor of Education (BEd)  की डिग्री भी पूरी करते हैं। आपके द्वारा पढ़ाए जाने वाले विषय उस विषय पर निर्भर करते हैं जिसे आप अपने स्नातक की डिग्री प्रोग्राम में पढ़ते हैं। इसके अलावा, आपको कम से कम अंग्रेजी, हिंदी या किसी भी क्षेत्रीय भाषा का ज्ञान होना चाहिए।

तो दोस्तों हमने इस आर्टिकल में जाना के टीचर टीचर बनने के लिए एक सही सब्जेक्ट का चुनाव बेहद ज़रूरी है ताकि आप छात्रों को बेहतर पढ़ा सकें | हमने जाना के किन चीज़ो का ध्यान रख कर आप यह जान सकते हैं के आपकी रुचि किस विषय में हैं | साथ में हमने जाना government teacher banne ke liye kya kare और कितने तरह के सरकारी टीचर होते हैं | 

हमारे जीवन में शिक्षक का महत्व क्या होता हैं?

शिक्षक हम सबके जीवन में काफी अहम भूमिका निभाते हैं। शिक्षक ही होते हैं जो हम सबके जीवन में सही राह दिखाते हैं। इनके जरिए ही हर व्यक्ति अपने जीवन में ऊंचाईयों को छूता है और अपने सपनों की तरफ कदम बढ़ाता है।

कितनी पढ़ाई करनी पड़ती है टीचर बनने के लिए?

teacher banne ke liye konsa subject lena chahiye

सबसे पहले आपके  लिए प्राइमरी टीचर बनने के लिए हाई स्कूल (10+2) पास करना अनिवार्य होता है। फिर बाद में प्राइमरी एजुकेशन में टीचर ट्रेनिंग कोर्स करना

आवश्यकता होता हैं, जिसके लिए डिप्लोमा इन एलेमेन्ट्री कोर्स करना होगा। डिप्लोमा इन एलेमंट्री एजुकेशन कोर्स करने के बाद State TET या CTET एग्जाम पास करना जरूरी होगा।

11वीं में कौन-सा सब्जेक्ट लेना होता है टीचर बनने के लिए?|teacher banne ke liye konsa subject lena chahiye

जब विद्यार्थी दसवीं कक्षा के परीक्षा पास कर लेते हैं,तो उन्हें 11वीं में विषयों के साथ-साथ कुछ ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव करना पड़ता है।

उदाहरण के लिए आप आर्ट्स,साइंस और मैथ इन तीनों में से जिस भी स्ट्रीम को चुनते हैं, उन stream के आधार पर यह तय होता है, कि आप भविष्य में किस विषय के शिक्षक बन सकते हैं।

11वीं कक्षा के आधार पर ही निर्धारित होता है, कि आप कौन से विषय के शिक्षक बनेंगे, वैसे 11वीं कक्षा के आधार पर थर्ड ग्रेड टीचर बना जा सकता है।

यही वजह है कि आपका जिन विषयों में इंटरेस्टेड है 11वीं कक्षा में आपको उन्हीं विषयों का चुनाव करना चाहिए जिससे आप भविष्य में उसी विषय के शिक्षक बन सकें।

बता दें कि 11वीं कक्षा के अलावा भी थर्ड ग्रेड टीचर बनने के लिए आपको अपने ग्रेजुएशन में भी इन सभी विषयों का ही चुनाव करना होगा, ताकि आप इन सभी विषयों के शिक्षक बन सकें।

शिक्षक बनने के लिए 11वीं कक्षा में कौन सा विषय  चुनना चाहिए?

आर्ट्स स्ट्रीम के सब्जेक्ट

  • हिंदी
  • अंग्रेजी
  • संस्कृत
  • दर्शनशास्त्र
  • मनोविज्ञान
  • समाजशास्त्र
  • कला स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा
  • ड्राइंग या पेंटिंग
  • मनोविज्ञान
  • लोक प्रशासन
  • इतिहास
  • भूगोल
  • राजनीति विज्ञान
  • हिंदी साहित्य
  • संस्कृत साहित्य
  • अंग्रेजी साहित्य

अगर विद्यार्थी arts स्ट्रीम का शिक्षक बनना चाहते हैं तो वह आर्ट्स स्ट्रीम में से कोई भी विषय का चुनाव कर सकते है और फिर  भविष्य में इन्हीं विषय के शिक्षक के तौर पर काम कर सकते हैं।

जैसा की हम सब जानते हैं कि किसी भी विषय के शिक्षक बनने के लिए आपको उस विषय की पूर्ण जानकारी होना आवश्यक होता है। यही कारण है कि आपको जिस विषय के शिक्षक बनना है उस विषय से आधारित पढ़ाई शुरु कर देनी चाहिए।

BA में कौन सा सब्जेक्ट लें टीचर बनने के लिए?

  • इतिहास
  • समाजशास्त्र
  • दर्शनशास्त्र
  • मनोविज्ञान
  • हिंदी साहित्य
  • अंग्रेजी साहित्य
  • संस्कृत साहित्य
  • लोक प्रशासन

कौन सा विषय महत्वपूर्ण होता है शिक्षक के लिए?

आपको बी.एड करना होगा शिक्षक बनने के लिए, जिसको आप ग्रेजुएशन के बाद कर सकते है। आपका स्नातक आपकी पसंद के किसी भी विषय में हो सकता है। आप चाहें तो बीए, बीकॉम या बीएससी भी कर सकते हैं।

कितनी सैलरी मिलती है एक टीचर की?

बता दें कि प्राथमिक शिक्षक (प्राथमिक विद्यालय): इस श्रेणी के शिक्षकों की मासिक सैलरी 30,000 रुपये से 35,000 रुपये तक होती है। माध्यमिक शिक्षक (माध्यमिक विद्यालय), नियोजित शिक्षकों की मासिक सैलरी 35,000 रुपये से 40,000 रुपये तक निधारित की गई होती है।

For more updates like these, visit us at https://latestgovernmentjobs.in/

Leave a comment