Sarkari teacher kaise bane |2023 में गवर्नमेंट टीचर कैसे बने?|Sarkari teacher kaise bane salary

शिक्षक का हमारे जीवन में बहुत मूल्य होता है। शिक्षा ही विद्यार्थी को सही मार्ग दिखाते हैं और विद्यार्थियों को पढ़ने में के लिए प्रेरित करते हैं। ऐसे बहुत से युवा हैं जो सरकारी शिक्षक बन विद्यार्थियों को सही शिक्षा प्रदान करने में दिलचस्पी रखते हैं। यदि आप भी सरकारी शिक्षक बनने में दिलचस्पी रखते हैं तो आपके मन में ख्याल आया होगा कि Sarkari teacher kaise bane. आज के इस आर्टिकल में हम आपको step by step बताएँगे|

Sarkari teacher kaise bane

सरकारी टीचर का महत्व

शिक्षक का महत्व तो हम सभी के जीवन में काफी ज्यादा होता हैं। सरकारी शिक्षक वह होते हैं जो सीधा सरकारी विद्यालयों में आवेदन कर बच्चों को सरकार के साथ मिलकर सही शिक्षा प्रदान करने का कार्य करते हैं। सरकारी टीचर तीन प्रकार के होते हैं जिसमें शामिल किया जाता है प्राथमिक टीचर (PRT), ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (TGT), पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (PGT). वैसे देखा जाए तो एक अपनी सरकारी नौकरी को 60 साल से अधिक वर्षों तक कर सकता है, लेकिन इसके अंतर्गत भी कई प्रावधान शामिल हो सकतें हैं।

Sarkari teacher kaise bane:step by step process

  • सबसे पहले सरकारी शिक्षक बनने के लिए आपको 12वीं कक्षा को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास करना अनिवार्य होता है। अब सवाल आता है कि आप किस सब्जेक्ट का चयन करते हैं। जिस सब्जेक्ट का चयन आप  12वीं कक्षा में करते हैं, उसी सब्जेक्ट को आप अपने शिक्षक बनने पर पढ़ा सकते हैं। इसका मतलब यह है कि आप जिस सब्जेक्ट में दिलचस्पी रखते हैं।  आप को उसी सब्जेक्ट का चयन 12वीं कक्षा में करना है। जिससे आप अपने शिक्षक बनने पर उसी विषय को पढ़ा सके।
  • दूसरी बात यह आती है कि जिस सब्जेक्ट का आप शिक्षक बन रहे हैं। उस सब्जेक्ट में आपको अच्छे से ध्यान देना हैं। क्योंकि आजकल विद्यार्थी अपने शिक्षक से सब्जेक्ट से संबंधित काफी ज्यादा Question करते हैं। जिसके लिए आपको पहले से ही तैयार रहना है और उसे सब्जेक्ट को अच्छे से और ध्यानपूर्वक पढ़ना है। 
  • अब बात आती है ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने की। अगर आप सरकारी शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपको अपने ग्रेजुएशन को अच्छे से पूरा करना होगा और याद रखें जिस सब्जेक्ट का टीचर आपको बनाना है। आप को अपने ग्रेजुएशन में भी इस विषय का चयन करना होगा और फिर आप अपने इंटरेस्ट के साथ उस विषय को पढ़ाने में सक्षम हो पाते हैं।
  • जब आप ग्रेजुएशन को अच्छे नंबर से कंप्लीट कर ले। तो उसके बाद आपको अपना आवेदन B.Ed कोर्स के लिए करना होता है। आपका उससे पहले ग्रेजुएशन में 50% मार्क्स लाना जरूरी होता है और b.ed ट्रेनिंग से रिलेटेड कोर्स करना होता है। जिस कोर्स को आप कंप्लीट कर किसी भी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में टीचर की पद पर नौकरी कर सकते हैं और यहाँ तक की आप गवर्नमेंट स्कूल में ही पढ़ सकते हैं।
  • जब आप अपने B.Ed कोर्स को कंप्लीट कर लेते हैं। तो उस के बाद में आप को एंट्रेंस एग्जाम को पास करना होता है। जिसको TET यानी की टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट कहते हैं। या फिर आप चाहे तो CTET का एग्जाम भी दे सकते हैं। इन एग्जाम को क्लियर करने के बाद आप सरकारी टीचर के लिए अप्लाई करने में सक्षम हो जाते हैं। अप्लाई करने के बाद ही मेरिट लिस्ट निकल जाती है। जिसमें आपको परसेंटेज के अनुसार आपका सरकारी टीचर का लेवल निर्धारित किया जाता है और कुछ इस तरह से आप अपने सरकारी टीचर बनने के सपने को पूरा कर सकते हैं।

टीचर के लिए बेस्ट डिग्री

बता दे कि स्नातक की डिग्री शिक्षा का न्यूनतम स्तर होता है। जिसकी आवश्यकता आपको शिक्षक बनने के लिए होती है।  आप विशेष शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, मध्यम स्तर की शिक्षा, या प्रारंभिक बचपन की शिक्षा में विशेषज्ञ भी हो सकते हैं।

सरकारी टीचर बनने के लिए उम्र सीमा

यदि आप भी शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपके लिए यह बात जाना जरूरी है कि टीचर बनने के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 18 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष होनी चाहिए। साथ ही पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए न्यूनतम उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम उम्र 40 वर्ष होनी चाहिए।

अच्छी नौकरी है सरकारी शिक्षक

सरकारी स्कूलों में शिक्षक बनना काफी अच्छी नौकरी मानी जाती है, क्योंकि इसमें शिक्षकों को उच्च पैकेज और अतिरिक्त भत्तों का लाभ दिया जाता है। उम्मीदवारों को प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक और उच्च प्राथमिक या माध्यमिक विद्यालय के सरकारी शिक्षक के इन-हैंड वेतन में बहुत अंतर देखने को मिलता है।

Also read:

Leave a comment