BSC ke baad government job

12वीं कक्षा के बोर्ड आ चुके हैं और यही समय सबसे ज्यादा विद्यार्थी को कंफ्यूज करने वाला होता है। इस समय में उन्हें इस बात की चिंता होती है कि 12वीं के बाद वह कौन सा कोर्स करें, जिससे उनकी इनकम अच्छी हो।

अगर बात करें साइंस विद्यार्थी की तो उनके लिए समस्या थोड़ी ज्यादा हो जाती है। जो बच्चे एमबीबीएस में न जाना चाहे, उनके लिए क्या ऑप्शन अवेलेबल होते हैं। उसके बारे में उन्हें भी कंफ्यूजन रहती है।

इसलिए आपकी इसी कंफ्यूजन को दूर करने के लिए आज हम इस आर्टिकल के जरिए लाए हैं बीएससी कोर्स के बारे में जिसे ज्यादा विद्यार्थी साइंस लेने के बाद में ग्रेजुएशन के रूप में करते हैं। साथ ही यह जानेंगे कि बीएससी के बाद कौन सी गवर्नमेंट जॉब में आप अप्लाई कर सकते हैं इसलिए आर्टिकल के अंत तक बने रहे।

बीएससी क्या है?

बीएससी ग्रेजुएट academic degree है। जिसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ साइंस होता है। साइंस स्ट्रीम भी किस मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12वीं को पास करना जरूरी होता है। टेक्नोलॉजी और साइंस हर देश में अलग अलग समय का साबित हुआ है। भारत में करने के लिए तीन से चार साल तक समय लगता है और बाकी देशों में 5 साल तक का समय भी लग सकता है।

दुनिया में सबसे ज्यादा किए जाने वाला कोर्स बीएससी ही माना जाता है। जिसे करने के लिए विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम का होना अनिवार्य होता है। इस कोर्स को करने के लिए आप नीचे दिए गए किसी भी विषय से पूरा कर सकते हैं।

  • mathematics
  • information technology
  • Computer science
  • Physics
  • Biology
  • Chemistry
  • Nursing
  • Agriculture
  • Biotechnology
  • Biochemistry
  • Social science और कई अन्य विषय है ‌, इन विषयों में बीएससी (B.Sc) की degree प्राप्त की जा सकती है।

बीएससी के बाद गवर्नमेंट जॉब|बीएससी के बाद नौकरी विकल्प

बीएससी करने के बाद गवर्नमेंट जॉब की लिस्ट कुछ इस प्रकार है।

प्रतियोगी परीक्षाएँगवर्नमेंट जॉब्स लिस्ट
RRB Group-DPointsman, Assistant, Assistant Track machine, Assistant TRD, Track Maintainer, Assistant works, Hospital Assistant, Gateman, Helper, etc.
SSC CHSLLDC – Lower Division Clerk, JSA – Junior Secretarial Assistant., Postal Assistant (PA), Sorting Assistant (SA), Data Entry Operator (DEO), DEO (Grade A), etc.
SSC CGLDirectorate of Enforcement, Ministry of External Affairs, Sub Inspector, CBDT, Central Bureau of Investigation, Department of Post, Income Tax Inspector, Intelligence Bureau, Ministry of Railway, etc.
PCSDeputy Collector, Deputy Superintendent of Police, Block Development Officer, Commercial Tax Officer, Assistant Regional Transport Officer, Assistant Sugar Commissioner, District Commandant Home Guards, Auditor Labor Department, District Programe Officer, etc.
CSEIndian Civil Accounts Service, Indian Corporate Law Service, Indian Defence Accounts Service, Indian Information Service, Indian Postal Service, Indian Revenue Service, Indian Trade Service, Indian Railway Protection Force Service, Indian Railway Management Service, etc.
RBI examAssistant Manager, Assistant General Manager, Deputy General Manager, General Manager, Chief General Manager etc.
UPSCIAS, IPS, IFS, IRS, IAAS, ICAS, ICLS, etc.
  • UPSC

यूपीएससीह यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा आयोजित किए जाने वाली यह परीक्षा जिसको पूरा करना काफी विद्यार्थियों का सपना होता है। अगर बात करें बीएससी स्टूडेंट की तो वह भी यूपीएससी की परीक्षा देने के लिए एलिजिबल होते हैं। यूपीएससी परीक्षा को पास करने से पहले आपको तीन चरणों को देना होता है। जिसमें प्रीलिम्स, मेंन्स और इंटरव्यू शामिल किया जाता है।

इन चरणों को पास कर ही आप एक सिविल सर्वेंट के रूप में कार्य कर सकते हैं। और अगर आप बीएससी के स्टूडेंट है, तो चिंता ना करें आप भी इस परीक्षा को देने में योग्य है।

  • SSC CGL

एसएससी परीक्षा भी एक सरकारी परीक्षा है। जिसको पास करने के लिए आपको तीन चरणों को पास करना होता है। अगर आप इन तीन चरणों को पूरा कर देते हैं, तो आप एसएससी के द्वारा दिए गए पद पर नियुक्ति का सकते हैं।

बीएससी करने के साथ आप एसएससी परीक्षा को भी देने के लिए योग्य होते हैं।

  • RRB NTPC

भारत में सबसे ज्यादा नौकरी देने वाला विभाग रेलवे ही होता है। इस विभाग में नौकरी पाने के लिए कई परीक्षाएं कई पदों पर नियुक्ति करने हेतु उपलब्ध होता हैं। हर पद के लिए अलग-अलग परीक्षाओं का निर्माण किया जाता है। ताकि इच्छुक उम्मीदवार अपने मुताबिक परीक्षा में दाखिला लेकर पद पर नियुक्ति पा सकें।

  • Banking

बैंक में नौकरी पाना काफी ज्यादा लोगों का सपना होता है। इस सपने को पूरा करने के लिए बैंक कई तरह की परीक्षाएं आयोजित करता है। बैंक में अलग-अलग विभाग के उम्मीदवार के लिए कई तरह की पद परीक्षाएं शामिल होती हैं। बीएससी करने के बाद उम्मीदवार चाहे तो बैंक में भी किसी पद पर नियुक्ति ले सकता है।

Conclusion

इस आर्टिकल के जरिए आपको दी गई जानकारी जिसमें आपको बीएससी के बाद गवर्नमेंट जॉब के बारे में बताया गया है। उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपके लिए लाभकारी होगी।

हमें आशा है कि आप दोबारा भी हमारी वेबसाइट के ऐसे ही और आर्टिकल्स को पढ़ने में अपनी दिलचस्पी जरूर दिखाएंगे। यह आर्टिकल अपने बीएससी करने वाले दोस्त के साथ शेयर करना ना भूले, धन्यवाद।

FAQ’s


बीएससी करने से क्या फायदा होता है?

बीएससी (Bachelor of Science) करने से कई तरह के फायदे हो सकते हैं:
विषय में गहरा अध्ययन: बीएससी कोर्स के दौरान विद्यार्थी अपने चयनित विषय में गहराई से पढ़ाई करते हैं, जो उन्हें उस क्षेत्र में विशेषज्ञता प्राप्त करने का अवसर देता है।
करियर विकल्प: बीएससी के बाद, विद्यार्थी विभिन्न क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं जैसे कि विज्ञान, गणित, प्रौद्योगिकी, आदि।
मास्टर्स और डॉक्टरेट: बीएससी के बाद, छात्र मास्टर्स और डॉक्टरेट की पढ़ाई करके अपनी शिक्षा को और भी ऊँचाईयों तक पहुँचा सकते हैं।
सरकारी नौकरियां: कई सरकारी नौकरियां बीएससी के धारकों के लिए उपलब्ध हैं, जैसे कि वैज्ञानिक, अनुसंधानी, यांत्रिकी, आदि।
और पढ़ाई: बीएससी के बाद आगे अध्ययन करने का विकल्प होता है, जैसे कि आईआईटी, आईआईएम, आदि में प्रवेश प्राप्त करके।

बीएससी करने के बाद कौन सी नौकरी मिल सकती है?

बीएससी के बाद व्यक्ति विभिन्न क्षेत्रों में नौकरी प्राप्त कर सकता है, जैसे कि:
सामाजिक कार्य: समाजशास्त्र, राजनीति विज्ञान, इतिहास, आदि से संबंधित नौकरियां।
मानव संसाधन: प्सायकोलॉजी, मैनेजमेंट, लेबर रिलेशन्स, आदि के क्षेत्र में नौकरियां।
मीडिया और संचार: जर्नलिज्म, एडवरटाइजिंग, पब्लिक रिलेशन्स, आदि में करियर के अवसर।
शिक्षा: टीचिंग या ट्यूटरिंग के क्षेत्र में नौकरियां।
सरकारी सेवा: विभिन्न सरकारी विभागों और निगमों में क्लर्क, आईएएस, आईपीएस, आदि की परीक्षाओं के लिए तैयारी।


बीएससी bio के बाद गवर्नमेंट जॉब

बायोलॉजी में बीएससी पूरा करने के बाद, आप विभिन्न क्षेत्रों में सरकारी नौकरियों की ओर बढ़ सकते हैं, जैसे कि अनुसंधान संस्थान, शिक्षण, स्वास्थ्य, वन सेवाएं, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (PSUs), और यूपीएससी, एसएससी, और राज्य स्तर की आयोगों द्वारा आयोजित प्रतियोगी परीक्षाओं के माध्यम से

Also read

Leave a comment